Monday, April 20, 2015

पेट्रोल पंप कर्मी की हत्या करने वाले आरोपी पकड़ाये

इन्दौर-दिनांक 20 अप्रेल 2015-अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पश्चिम जोन-2 श्री आदित्य प्रताप सिंह ने बताया कि शनिवार दिनांक 18.04.15 को महू नाका पर पेट्राल पंप कर्मचारी की चाकू मारकर हत्या करने वाले तीन आरोपियों को पकड़ने में पुलिस को महत्वपूर्ण सफलता प्राप्त हुई है।
          महू नाका स्थित धीरज गर्ग के पेट्रोल पंप पर दिनांक 18.04.2015 की रात्रि 10.45 बजे, चार व्यक्ति गाड़ी में पेट्रोल भरवाने के लिये पंप पर आये व जल्दी पेट्रोल भरवाने की बात पर पंपकर्मी अनिल रावत से विवाद कर उसे चाकू मारकर घायल कर दिया तथा बीच बचाव करने के लिये आये एक अन्य ग्राहक राज सलूजा को भी चाकू मारकर प्राणघातक हमला किया व एक क्वालिस गाड़ी में भी तोड़ फोड़ कर आग लगाने की कोशिश की। इसके बाद चारों एक मोटर सायकल व एक सफेद कलर की एक्टिवा क्रं एमपी-09 एसएल-1444 पर बैठकर वहां से भाग गये। पेट्रोल पंप से भागकर इन्होने अन्नपूर्णा रोड़ पर गुलाब स्टूडियों के सामने राहगीर सोनू उफ सुनिल को अनावश्यक रूप से चाकू मारकर घायल कर दिया तथा थोड़ी दूरी पर मेहरबान सिंह चौधरी जो दूध की दुकान बंद कर घर जा रहाथा उसके साथ भी मारपीट कर उसे चाकू मारकर घायल कर दिया। इन चारों की पहचान शहर के लिस्टेड गुंडे चेतन यादव निवासी-रावजी बाजार, संदीप राठौर निवासी-जोशी मोहल्ला, मौसम उर्फ लखन निवासी-छत्रीपुरा तथा पवन पिता रामचंद्र राठौर निवासी-जोशी मोहल्ला के रूप में हुई। उक्त हमलें में घायल पंपकर्मी अनिल रावत की इलाज के दौरान मृत्यु हो गयी।
       उक्त सनसनीखेज घटना को गंभीरता से लेते हुए उप पुलिस महानिरीक्षक इन्दौर शहर श्री राकेद्गा गुप्ता ने प्रकरण की कमान अपने हाथ में लेकर पुलिस अधीक्षक पश्चिम श्री आबिद खान के नेतृत्व में अति. पुलिस अधीक्षक पश्मिच जोन-2 श्री आदित्य प्रताप सिंह, अति.पुलिस अधीक्षक अपराध शाखा श्री विनय प्रकाश पाल, नगर पुलिस अधीक्षक आर.एस. घुरैया, थाना प्रभारी अन्नपूर्णा दिनेश सिंह चौहान, थाना प्रभारी चन्दन नगर विनोद दिक्षित व अन्य कर्मचारियों की टीमें गठित की गई तथा इन्हे आरोपियों को पकड़ने के लिये आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये। आरोपीगण घटना के बाद से ही इन्दौर छोड़कर अन्य जगह फरार हो गये थे, इनकी तलाश करते इनकी रिश्तेदारियां उज्जैन, भोपाल, देपालपुर होने का पता चला, जहां पर पुलिस की पार्टियांभेजी गयी थी। आरोपीगण लगातार अपनी लोकेशन बदलकर पुलिस को परेशान करते रहे। आज दिनांक 20.04.15 को खबर मिलीं की आरोपी संदीप उसकी ससुराल देपालपुर मे है तो पुलिस पार्टी उसे पकड़ने के लिये भेजी गयी तो उन्हे खबर मिलीं की आरोपीगण देपालपुर से निकल गये है और गांधीनगर इन्दौर में अंग्रेजी वाईन शॉप के पास में है तो इनकी घेराबंदी कर एक मोटर सायकल पर आरोपी चेतन यादव, संदीप राठौर तथा मौसम को पकड़ा व एक अन्य साथी पवन की तलाश जारी है। आरोपियों से पूछताछ जारी हैं। 
         ये चारों आरोपीगण शातिर बदमाद्गा है व इनके विरूद्ध कई मामले दर्ज है, आरोपी संदीप राठौर के विरूद्ध हत्या और हत्या के प्रयास सहित कुल 15 अपराध है, आरोपी चेतन के विरूद्ध भी 15, आरोपी मौसम के विरूद्ध 07 तथा आरोपी पवन के विरूद्ध 12 अपराध पंजीबद्ध है। आरोपी संदीप राठौर को थाना एमजी रोड़ के हत्या के एक अपराध में आजीवन कारावास की सजा हुई थी, जिसमें माननीय उच्च न्यायालय से वह 5 माह पहले ही जमानत पर आया था। वह 36 माह जेल मे रहा, जमानत पर छूटकर पुनः अपराध में संलग्न होकर फिर हत्या के प्रयास के मामलें में जेल में गया तथा फिर जमानत मिलगयी और फिर पुनः दिनांक 18 अप्रेल 2015 को उक्त घटना को अंजाम दिया।
         इस संपूर्ण कार्यवाहीं में वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में नगर पुलिस अधीक्षक अन्नपूर्णा आर.एस. घुरैया के नेतृत्व में थाना प्रभारी अन्नपूर्णा दिनेश सिंह, थाना प्रभारी चंदन नगर विनोद दिक्षित, उनि वी. शर्मा, सउनि एसबीएस कुशवाह, आर. बलराम, आर. लक्ष्मीकांत, थाना अन्नपूर्णा के प्रआर. कमल चौहान, आर. संजय खान, आर. धर्मेन्द्र, आर. लोकेन्द्र, अपराध शाखा के आर. रितेश चौहान, आर. योगेन्द्र चौहान, थाना चंदन नगर के प्रआर. पंकज कटारे, आर. अभिषेक तथा आर. मनीष का महत्वपूर्ण एंव सराहनीय योगदान रहा।

1 comment:

  1. Nice Article sir, Keep Going on... I am really impressed by read this. Thanks for sharing with us.. Happy Independence Day 2015, Latest Government Jobs. Top 10 Website

    ReplyDelete